पानी के तेज बहाव में फसी रोडवेज बस

0
17

बिजनौर कोटद्वार से हरिद्वार सवारी लेकर जा रही उत्तराखंड रोडवेज की बस कोटावाली नदी के रपटे पर पानी की तेजधार में गड्ढे में फंस गई। बस में सवार यात्रियों में चीख-पुकार मच गई। वहीं सूचना पर पहुंची पुलिस ने सभी यात्रियों को रेस्क्यू कर बस से सुरक्षित बाहर निकाला।
दरसल मामला बिजनौर के मंडावली थाना क्षेत्र के नेशनल हाईवे 74 पर स्थित कोटावाली नदी के रपटे का है। यहां लगभग 12 बजे उत्तराखंड रोडवेज की कोटद्वार डिपो की बस नदी के रपटे पर गड्ढे में पानी के तेज बहाव में फंस गई। सूचना पर मंडावली थाना अध्यक्ष पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंचे और जेसीब व क्रेन की मदद से बस में सवार सभी यात्रियों को बस से सुरक्षित बाहर निकाला। दरअसल मंडावली क्षेत्र स्थित कोटावाली नदी के पुल का एक हिस्सा कई साल पहले तेज बहाव के चलते क्षतिग्रस्त हो गया था। जिसके चलते बड़े वाहन अब नदी के नीचे बने रपटे से होकर के गुजर रहे हैं। जबकि हल्के वाहन रपटे के ऊपर से होकर गुजरते हैं। अक्सर जब पहाड़ों पर बारिश होती है तो नदी उफान पर आ जाती है। वाहनों के ड्राइवर को अंदाजा नहीं होता की नदी में कितना पानी चल रहा है, जिसके चलते कई बार बस व अन्य वाहन नदी में फंस जाते हैं। साथ ही इस बार हुई ज्यादा बारिश की वजह से रपटे में कई जगह गहरे गहरे गड्ढे हो गए है।
वही इस मामले में मंडावली थाना अध्यक्ष रविंद्र सिंह का कहना है की सभी 7 यात्रियों को सुरक्षित निकाल लिया गया है। इससे पहले शुक्रवार को नेपाल से हरिद्वार जा रही सवारियों से भरी भारत नेपाल मैत्री बस भी फंस गई थी जिसमे 53 यात्री सवार थे पुलिस ने सभी को रेस्क्यू कर निकाला था। इससे पहले 22 जुलाई को भी रूपेड़ीहा से यात्रियों से भरकर देहरादून जा रही बस इसी नदी के रपटे मे फंस गई थी। इस बस में 45 यात्री सवार थे।